Shisha Ke Dil Banal Rahe - Kumar Sanu Lyrics

Shisha Ke Dil Banal Rahe - Kumar Sanu Lyrics

Singer Kumar Sanu
Music Lal Sinha
Song Writer Shyam Dehati


शीशा के दिल बनल रहे
शीशा के दिल बनल रहे
टुटल बिखर गईल
साथी मिलल रहे एगो
मिलके बिछड गईल
हां ~साथी मिलल रहे एगो
मिलके बिछड गईल
शीशा के दिल बनल रहे
टुटल बिखर गईल
साथी मिलल रहे एगो
मिलके बिछड गईल
साथी मिलल रहे एगो
मिलके बिछड गईल

(🎶 Music 🎶)

भगिया गज़ब की लिखले
हाय रे हमार बिधाता
जिनगी बोझ भईल बा अब तो
जियल नाही जाता
भगिया गज़ब की लिखले
हाय रे हमार बिधाता
जिनगी बोझ भईल बा अब तो
जियल नाही जाता
जियल नाही जाता
केकरा से करि शिकवा
केकरा से करि शिकवा
सब कुछ उजर गईल
साथी मिलल रहे एगो
मिलके बिछड गईल
साथी मिलल रहे एगो
मिलके बिछड गईल

(🎶 Music 🎶)

जिनगी में केहू बनके
आईल हवा के झोखा
प्रीत मिलन से पहिले किसमत
दे गईल रे धोखा
जिनगी में केहू बनके
आईल हवा के झोखा
प्रीत मिलन से पहिले किसमत
दे गईल रे धोखा
दे गईल रे धोखा
दुःख के हज़ार काँटा
दुःख के हज़ार काँटा
रहिया में पड़ गईल
साथी मिलल रहे एगो
मिलके बिछड गईल
साथी मिलल रहे एगो
मिलके बिछड गईल
शीशा के दिल बनल रहे
टुटल बिखर गईल
साथी मिलल रहे एगो
मिलके बिछड गईल
साथी मिलल रहे एगो
मिलके बिछड गईल



Post a comment

0 Comments